Gen Bipin Rawat Chopper Crash: सीडीएस बिपिन रावत के शहीद पर जताया कई देशो ने शोक ।

Gen Bipin Rawat Chopper Crash: तमिलनाडु के कुत्रूर मे बुधवार को वायुसेना का एक हेलीकॉप्टर हादसे का शिकार हो गया उस हेलीकॉप्टर में चीफ आफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत (Bipin Rawat) और उनकी पत्नी भी इस हेलीकॉप्टर में सवार थी।

आप लोगों को बता दें कि इस हेलीकॉप्टर में 14 लोग सवार थे जिसमें 13 लोगों की मौत हो गई है और जिसमें 1 लोगों का इलाज चल रहा है आप लोगों को बता दें कि बिपिन रावत को जब ले जाया जा रहा था तब दोनों तरफ लोगों ने खड़े होकर पुष्पों की वर्षा की और उन्हें सलामी दी जिससे लोगों की आंखें काफी नम थी और आंसू छलक रहे थे क्योंकि भारत में अपने एक जवान को खोया है जो कि वह लाखों आंखों के तारे थे।

PM मोदी शहित विश्व के कई देशो ने जताया शोक

तमिलनाडु में हुए एक चाॅपर हादसे में Bipin Rawat सहित उनकी पत्नी और 11 अन्य सैनिक शहीद हो गए हैं बुधवार को आई इस दुख भरी खबर ने जैसे हर हिंदुस्तानियों को अंदर से तोड़ कर रख दिया हो आप लोगों को बता दें कि तमिलनाडु में हुए इस हादसे को लेकर जापान, इजराइल, रूस , अमेरिका और ताइवान देशो ने जताया शोक।

CDS Bipin Rawat
CDS Bipin Rawat

देश में पूरी तरह दुःख पहाड़ टूट पड़ा है इनके मौत पर इस तरह कई लोगो ने ट्वीट करते हुए लिखा है की उन्होंने अपनी भूख और प्यास भी भूल चुके हैं और वह अंदर से टूट चुके हैं क्योंकि उन्होंने इस हादसे घायल लोगों पर ट्वीट करते हुए लिखा कि हे ईश्वर कृपया करो हमारी सारी प्रार्थनाएं आपके द्वार हैं और उसके कुछ देर बाद उन्होंने एक ट्वीट करते हुए देश को हिम्मत और हौसले के ऊपर ट्वीट करते हुए लिखा यह समय है पूरे देश के इकट्ठे व मजबूत रहने का है आप लोगों को बता दें कि जब से विपिन रावत की मौत हुई है तबसे पूरे भारत में एक गम सा छा गया है क्योंकि वह सबके चहेते थे बिपिन रावत (Bipin Rawat) आप को सलाम है

कर्म से ही नहीं बल्कि मन से भी फौजी थे Bipin Rawat

बिपिन रावत के बारे में कहा जाता है कि वह कभी निश्चिंत नहीं बैठना चाहते थे 60 का एक बार आता है जब ज्यादातर लोग रिटायरमेंट लेकर घर बैठ जाते हैं लेकिन बिपिन रावत उनमें से नहीं थे दिलचस्प बात यह है कि वह उन लोगों में से भी नहीं थे जो दिल्ली और मुंबई जैसे शहरों में पोस्टिंग करा ले और फिर आराम की जिंदगी गुजारे।

वह हर वक्त सोचते रहते थे कि मेरी पूरी जिंदगी के हरपल भारत के काम आए और वह आप यह चाहते थे कि मेरा पूरा वक्त सैनिक के साथ और देश के लोगों के साथ रहे यह खुलासा बिपिन रावत के साले यशवर्धन ने किया उन्होंने पूरे देश को बताया कि बिपिन रावत कर्म से नहीं बल्कि पूरे मन से फौजी थे और हर समय बॉर्डर पर सैनिकों के साथ रहना चाहते थे।

यह भी पढ़े: IND vs NZ 1st Test: भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले जा रहे टेस्ट मैच के तीसरे दिन अक्षर पटेल की शानदार गेंदबाज़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.