नार्थ कोरिया के सुप्रीम लीडर किम जोंग उन ने हंसने और रोने पर 11 दिनों के लिए लगाया प्रतिबन्ध।

नार्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने अपने देश में 11 दिनों के लिए हँसने, रोने व ख़ुशी मनाने पर पूरी तरह से प्रतिबन्ध लगा दिया है ऐसे में उस देश की आम जनता के लिए यह एक आम बात हो गयी है तथा उनको हर साल ये शोक दिवस मानना पड़ता है यदि कोई उनके पूर्वज की डिसरेस्पेक्ट करता है तो वह सबसे बड़ा अपराध के रूप में माना जाता है। इस दौरान नार्थ कोरिया के किसी परिवार पर कितना असर पड़ेगा जब उनके घर में किसी मृत्यु भी हो जाती है तो वे रो भी नहीं सकते। ऐसे में लोगो को देखना होगा की किसी देश के लिए लोकतंत्र कितना मत्वपूर्ण है जंहा लोगो को हर एक चीज करने की पूरी तरह से आज़ादी होती है। 

नॉर्थ कोरिया में क्यों लगी 11 दिन की पाबन्दी

आज से ग्यारह साल पहले 2011 में नार्थ कोरिया के सुप्रीम लीडर किम जोंग उन के पिता किम जॉन्ग-इल (2nd लीडर ऑफ़ नार्थ कोरिया) की मृत्यु हो गयी थी जिन्हे नार्थ कोरिया के डिअर लीडर के नाम से जाना जाता है। 2011 इनका निधन हो जाता है और यह इनकी 10वी पुण्यतिथि है तथा उनकी इस पुण्यतिथि के अवसर पर 11 दिनों के लिए हंसने, रोना तथा शराब पीने पर प्रतिबनध लगा दिया तथा देश की जनता से कहा यह गया है की आपको इस समय शोक में यूनिटी दिखानी है तथा यदि कोई यह नियम तोड़ने को कोशिश करता है तो उसे मौत की सजा तक मिल सकती है तथा यह ऐसा नहीं की नार्थ कोरिया के लोगो को पहली बार करना पड़ रहा है असल में ये शोक हर साल मानते है फर्क इतना है की हर साल 10 दिन होता था इस बार यह शोक 11 दिन का है।

Kim Jong-Un
Kim Jong-Un and his father

तानाशाह किम जोंग उन की जाने फॅमिली ट्री

आपको जानके यह आश्चर्य होगा की अब तक नार्थ कोरिया में केवल तीन ही तानाशाह हुए है पहले तानाशाह जिन्होंने नार्थ कोरिया का संस्थापक कहा जाता है जिनका नाम किम इल सुंग था तथा जिनको ग्रेट लीडर व इटरनल लीडर ऑफ़ नार्थ कोरिया का टाइटल मिला है उसके बाद इनके बेटे किम जोंग इल आये तथा इनका 2011 में देहांत हो जाने के बाद आये किम जोंग उन जो आज के समय नार्थ कोरिया के ताशाह के रूप में जाने जाते है।

यह भी पढ़े: Winter Olympic 2022 : अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम और ऑस्ट्रेलिया समेत दुनिया के कई देशो ने बीजिंग ओलिंपिक को किया बायकॉट।

Leave a Reply

Your email address will not be published.