Pakistan Energy Crisis 2021: पाक में खत्म हो सकते है कुछ सालो में नेचुरल गैस, फवाद चौधरी ने दिया बयान।

Pakistan Energy Crisis 2021 :इस समय पाकिस्तान पेट्रोल और डीजल इम्पोर्ट कर नहीं पा रहा है क्यूंकि इनके पास विदेशी मुद्रा (Forex Reserve) है नहीं इसी दौरान जो कुछ इनके यंहा नेचुरल गैस (Natural Gas) के भंडार थे वह भी जल्द ही ख़त्म हो सकता है। पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी में अपने एक इंटरव्यू के दौरान कहा की पाकिस्तानी को अपने जीने के तरीके में बदलाव लाना क्यूंकि कुछ ही सालो में कोई भी नेचुरल गैस नहीं बचेगी तथा देश के पास इतना पैसा नहीं है की वह क़तर , रूस एवं बाकी जो नेचुरल गैस बेचने वाले देश है इनसे बड़ी मात्रा में आयात कर सके।

Pakistan में नेचुरल गैस ख़त्म होने का क्या है कारण

पाकिस्तान दुनिया का 1.1 प्रतिशत नेचुरल गैस consume करता है वही भारत में इतनी बड़ी जनसँख्या के बावजूद दुनिया का केवल 1.4 प्रतिशत ही नेचुरल गैस consume करता है तथा दुनिया में सबसे ज्यादा उपयोग करने वाला देश संयुक्त राज्य अमेरिका है। पाकिस्तान सन 1952 से ही नेचुरल गैस पर अपनी आत्म निर्भरता इतनी ज्यादा कर दी की बाकी किसी भी एनर्जी सेक्टर पर काम नहीं किया जिससे आज उनको इसका खाम याज़ा भुगतना पड़ रहा है।

यह भी पढ़े: Miss Universe 2021: भारत की हरनाज़ सिंधु ने जीता 21 साल बाद मिस यूनिवर्स का खिताब। 

अगर Pakistan में नेचुरल गैस के रिज़र्व की बात की जाए तो अधिकांश नेचुरल गैस उनके बलूचिस्तान प्रोविंस में मिलता है बताया जाता है की सन 1952 में Pakistan को एक बहुत बड़ा रिज़र्व मिल गया फिर इन्होने पाइप लाइन डालकर पंजाब ,लाहौर तथा इस्लामाबाद में पहुँचाने लगे तथा लोगो के दैनिक जीवन उपयोग किया जाने लगा और जंहा भी एनर्जी की आवश्यकता होती तो उसे नेचुरल गैस से पूरा करते तथा एनर्जी सेक्टर को लेकर राजनीती होने लगी तथा यह एक इलेक्शन का मुद्दा बन चुका था की कौन नेता उस पर कितना सब्सिडी देगा ऐसा करते -2 इंटरनेशनल मूल्य से भी सस्ते इनके यंहा नेचुरल गैस हो गयी थी।

Pakistan' PM
Pakistan’ PM

Pakistan के अधिकांश नेचुरल गैस इनके बलूचिस्तान प्रोविंस में पाए जाते है तथा वंहा से अलग-2 राज्य में सप्लाई कर दिए जाते है तथा वंहा भी खत्म लगभग खत्म हो चुका है नई नेचुरल गैस रिज़र्व की खोज को लेकर बलूचिस्तान के लोगो प्रोटेस्ट चालू कर दिया उनका कहना है की नेचुरल गैस यंहा से निकालकर किसी दूसरे राज्य के विकाश में प्रयोग किये जाते है जबकि बलूचिस्तान के लोगो को उसका कोई फायदा नहीं मिलता है ऐसे में वंहा के लोगो ने पाकिस्तानी अथॉरिटी को पूरी तरह से नेचुरल गैस के खोज करने पर रोक लगा दिया । जिसके संकट का सामना पाकिस्तान को आने वाले समय में करना पड़ेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.